होमरूल लीग आंदोलन : Important MCQ PDF

0
40

होमरूल लीग आंदोलन

 

  1. किस अधिवेशन में होमरूल समर्थक अपनी राजनीतिक शक्ति का सफलतापूर्वक प्रदर्शन कर सके?

(a) कांग्रेस का 1916 का लखनऊ अधिवेशन

(b) 1920 का बंबई में होने वाला आल इंडिया ट्रेड यूनियन अधिवेशन

(c) 1918 में होने वाली प्रथम यूपी. किसान सभा

(d) 1938 में नागपुर का संयुक्त ए, आई. टी. यू. सी. और एन. एफ. टी. यू. समा

ANS – [A]



  1. तिलक तथा ऐनी बेसेंट द्वारा बनाए गए होमरूल लीगों को एक में मिला दिया गया था

(a) 1916 में                       (b) 1918 में

(c) 1920 में                       (d) 1923 में

ANS – [B]


  1. होमरूल लीग आंदोलन सर्वप्रथम किसने आरंभ किया?

(a) एनी बेसेंट                    (b) सरोजनी नायडू

(c) सुरेंद्रनाथ बनर्जी          (d) तिलक

ANS – [A]


  1. निम्नलिखित में से कौन होमरूल आंदोलन से नहीं जुड़ा था?

(a) सी. आर. दास           (b) एस. सुब्रमण्यम अय्यर

(c) एनी बेसेंट                 (d) बाल गंगाधर तिलक

ANS – [A]


  1. होमरूल लीग के संबंध में निम्नलिखित में से क्या असत्य है?

(a) सबसे पहले इसकी योजना एनी बेसेंट ने वर्ष 1914-15 में प्रस्तुत की थी।

(b) तिलक की होमरूल लीग महाराष्ट्र, कर्नाटक, मध्य प्रांत एवं बरार तक सीमित थी।

(c) तिलक द्वारा स्थापित होमरूल लीग अधिक शक्तिशाली थी।

(d) तिलक और बेसेंट के मतभेदों के उपरांत दोनों लीग बनी रही।

ANS – [D]





  1. 1915-16 में दो होमरूल लीग आरंभ की गई थी नेतृत्व में

(a). तिलक एवं एनी बेसेंट के

(b) तिलक एवं अरविंद घोष के

(c) तिलक एवं लाला लाजपत राय के

(d) तिलक एवं बिपिन चंद्र पाल के

ANS – [A]


  1. निम्न में से कौन फेबियन आंदोलन का प्रस्ताव था?

(a) एनी बेसेंट                                (b) ए.ओ. ह्यूम

(c) माइकल मधुसूदन दत्त           (d) आर. पाम दत्त

ANS – [A]


  1. एनी बेसेंट

01 . होमरूल आंदोलन प्रारंभ करने के लिए उत्तरदायी थीं।

02.  सोसाइटी की संस्थापिका थी।

03. इंडियन नेशनल कांग्रेस की एक बार अध्यक्ष थीं।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही कथन/कथनों को चुनिए।

(a) केवल 1

(b) केवल 2 और 3

(c) केवल 1 और 3

(d) 1, 2 और 3

ANS – [C]


  1. प्रथम विश्वयुद्ध के दौरान आंदोलन जो भारत में लोकप्रिय हुआ था, वह था

(a) स्वदेशी एवं बहिष्कार आंदोलन

(b) होमरूल आंदोलन

(c) पृथकतावादी आंदोलन

(d) स्वराजिस्ट पार्टी आंदोलन

ANS – [B]


  1. होमरूल आंदोलन भारत के स्वतंत्रता संग्राम के एक नए चरण के आरंभ का द्योतक था, क्योंकि

(a) इसने देश के सामने स्वशासन की एक ठोस योजना रखी।

(b) आंदोलन का नेतृत्व गांधीजी के हाथ में आ गया।

(c) हिंदुओं और मुसलमानों ने एक संयुक्त संघर्ष प्रारंभ किया।

(d) इसने आतंकवादियों और उदारवादियों के बीच पुनर्मेल स्थापित किया।

ANS – [A]




Download PDF




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here